TGT PGT Big Breaking News|तदर्थ शिक्षकों के, बारे में कुछ ध्यान देने योग्य बातें

TGT PGT Big Breaking News|तदर्थ शिक्षकों के, बारे में कुछ ध्यान देने योग्य बातें

✌️: तदर्थ शिक्षकों के, बारे में कुछ ध्यान देने योग्य बातें

✌️:-इनकी नियुक्ति किसी भी प्रदेश स्तरीय विज्ञापन से या माध्यमिक शिक्षा अधिनियम के अनुसार नहीं हुई है मात्र बिना प्रचलित  लोकल पेपर में चुपके से विज्ञापन देकर management और जिला विद्यालय निरीक्षक के मिलीभगत सेहोती है।

,✌️:-इस प्रकार के नियुक्ति में मात्र आठ आठ दस लोगों की मार्कशीट लेकर फर्जी इंटरव्यू द्वारा पैसा देने वाले इच्छुक व्यक्ति का चयन कर लिया जाता है।

,✌️:-इसके बाद नियुक्त होने वाला अभ्यर्थीयह कहकर माननीय उच्च न्यायालय में याचिका दाखिल करता है कि मैनेजमेंट ने उसे नियुक्त कर लिया है और उसे वेतन नहीं दे रहा है।

✌️:-माननीय उच्च न्यायालय संबंधित व्यक्ति को आयोग से संबंधित पद पर चयनित कोई व्यक्ति के आने तकउस मैनेजमेंट द्वारा नियुक्त अभ्यर्थी को वेतन देने का आदेश दे देता है लेकिन आयोग के आने पर संबंधित व्यक्ति का पद अपने आप स्वतःसमाप्त हो जाता है।

✌️:-इस प्रकार तदर्थ शिक्षक पदों के सापेक्ष कभी स्थाई प्रकृति के नहीं होते हैं हां और ना ही वह किसी प्रदेश स्तरीय और जिला स्तरीय कंपटीशन से नियुक्त हुए हैं।

✌️:-ऐसी दशा में आप स्वयं ही सोचें कि उन्हें किसी प्रकार का भार अंक दे दिया जाना किसी भी प्रकार से न्याय उचित नहीं है। क्योंकि आयोग के चयनित शिक्षक आने पर उनको वह पद छोड़ना ही होता था।,

✌️:-क्योंकि पूरे प्रदेश भर में इनकी तादाद बहुत बड़ी मात्रा में है इसलिए यह प्रेशर ग्रुप के रूप में काम करते हैं और यदि फ्रेशर अभ्यर्थी नहीं चेते तो उनका पद यह ले उड़ेंगे और किसी भी दशा में 0.25 से ज्यादा भारांक इनको नहीं दिया जाना चाहिए अधिकतम भारांक 10 अंक ही प्रदान किए जाने चाहिए।,

✌️:-शिक्षामित्र सरकारी शासनादेश से नियुक्त होने के बाद भी नियमित नहीं किए गए परंतु तदर्थ शिक्षकों जो मैनेजमेंट और जिला विधायक विद्यालय निरीक्षक को पैसा देकर भर्ती हुए और इंटरमीडिएट शिक्षा अधिनियम अधिनियम के विपरीत उनकी भर्ती हुई तू किसी दशा में टेंपरेरी शिक्षक ही थे उनकी नियुक्ति रिक्त पद के सापेक्ष नहीं हुई है अतः उन्हें किसी भी तरह का भार अंक दिया जाना इंटरमीडिएट शिक्षा अधिनियम 1921 के विपरीत है इसे न्यायालय में चैलेंज भी किया जा सकता है।

,✌️:-पढ़ाई के साथ-साथ अपने अधिकार के प्रति सजग रहना हम सभी के लिए अपेक्षित है।

Post a Comment

हमारी दी गई सूचना आपके लिए यूज़फुल लगी क्या?
Yeas Or No

Previous Post Next Post